डूहेल्पमी की जरूरत क्यो है ?
22 March, 2019

डूहेल्पमी की जरूरत क्यो है ?

ूहेल्पमी की जरूरत क्यो है ?

मेरे प्यारे भाइयों और बहनों ,

आप सभी को अच्छी तरह से मालूम है कि , पिछले कुछ महिनों से भारत देश समेत पूरा विश्व कोरोना वायरस की वजह से लॉक-डाऊन में बंद है । सब लोग इस महामारी के चपेट से बचने के लिए अपने अपने घरो में बंद रहने के लिए मजबूर है।  लॉक डाऊन कि वजह से सब लोगों के आमदनी के सारे रास्ते बंद हो चुके हैं। मगर खुद की और परिवार की रोज़मर्रा की जरूरते पूरी करने के लिए धनराशि बराबर खर्च हो रही हैं।अगर यहीं हाल  लंबे समय तक रहा तो जमा पूँजी के साथ कब तक गुजारा होगा ? और क्या आपने सोचा है ! जब कुछ महीनों के बाद यह लॉक -डाऊन खत्म हो जायेगा तो ,आर्थिक मंदी के कारण कई लोगों को अपनी नोकरीयों से हाथ भी धोना  पड सकता है। एक तो लंबे समय तक चलनेवाली लॅाक डाऊन कि वजह से जमा पॅूंजीं खत्म हो जाएगी और नौकरी जाने से आमदनी का जरिया बंद हो जाएगा मगर  अपने परिवार कि जरुरते पुरी करने के लिए धन कि आवश्यकता तो पडेगी ही !

हो सकता है, भविष्य  में आप मे से कोई भाई-बहन ऐसी समस्या का शिकार हो जाए ! तो क्या आप ,प्यास लगेगी तभी कुआँ खोदना पसंद करोगे ?  या भविष्य में आनेवाली समस्याओ को भापकर आज ही उसका समाधान निकालोगे ?

अपने भारत देश के लोगों कि यहीं समस्या सुलझाने का मजबुत इरादा लेकर , www.dohelpme.org  यह वेबसाईट एक अच्छा विकल्प उपलब्ध कर रही है । जिसका मूल आधार है-  “HELP FIRST THEN GET YOURSELF HELPED”।

डूहेल्पमी का कन्सेप्ट क्या है ?

डूहेल्पमी का कन्सेप्ट एकदम क्लीअर और पारदर्शी है।

  • जो कोई व्यक्तिं को इस सिस्टम से आर्थिक मदद कि आवश्यकता है , ऐसे व्यक्तिं कों इस सिस्टम में मदद पाने हेतू पहले से जुडे , जाने-अनजाने सदस्यों को केवल एक बार 850/- रुपयों कि मदद देने कि तैयारी होनी चाहिए।
  • 850/- रुपयों कि मदद देने के बाद अपनी आर्थिक जरुरतों के मुताबिक कम से कम एक या जादा से जादा बीस अपने जैसे जरुरतमंद व्यक्तिंओं को सिस्टम में जोडने कि क्षमता होनी चाहिए। उसके बाद निरंतर मदद पाने के लिए उनके साथ जुडनेवाले हर एक सदस्य को अपने जैसे जरुरतमंद सदस्य जोडने के लिए प्रोत्साहित करने का हुनर होना चाहिए।
  • अगर किसी सदस्य नें अपनी आर्थिक जरुरत पुरी करने के लिए पहले लेव्हल पर चार सदस्यों को जोडने के बाद ,उन चारों सदस्यों ने भी अपने निचे चार-चार सदस्यों को जोडा और उन्होंने यह चार -चार सदस्य जोडने का सिलसिला दसवे लेव्हल तक चलते रहने का सुनिश्चित किया तो  वह सदस्य इस सिस्टम से कम से कम 6,99,06,200/- रुपयों कि आर्थिक मदद पा सकता है।

डूहेल्पमी सब से हटकर क्यों हैं  ?

  • कोई प्रॅाडक्ट या सर्व्हीसेस् नहीं बेचनी है।
  • बहुत छोटी यानी केवल 850/- रुपयों कि मदद देकर सिस्टम में जुडने का सुनहरा मौका मिलता है। सदस्य पर किसी भी तरह कि पाबंधी नहीं है । वह केवल मदद देकर भी सिस्टम में जुडा रह सकता है , या अपने आर्थिक जरुरत के मुताबिक, एक या बीस सदस्य सिस्टम में जोडकर अपने जरुरत के मुताबिक अल्प या भारी भरकम मदद पाने के लिए आजाद है।
  • डायरेक्ट रेफरन्स पर जुडनेवाले व्यक्तिं के धनराशि का कम से कम 24% और जादा से जादा 95% धनराशि का हिस्सा मदद के रुप में तुरंत मिलता है।
  • 42 लेव्हल तक लगभग 24% एक समान धनराशि कि प्राप्ती होती रहती है।
  • पे आउट मिलने के लिए इंतजार करने कि जरुरत नहीं, क्यो कि सिस्टम में जुडनेवाला नया व्यक्ति सिस्टम ने बताए हुए  जरुरतमंद लोगो को उन्होने दिए हुए माध्यम के जरिए डायरेक्ट  मदद भेजता है।
  • नये जुडनेवाले हर एक व्यक्ति के धनराशि का जरुरतमंद सदस्यों में सौ प्रतिशत (100% ) पारदर्शक वितरण होता है।
  • सबसे महत्वपूर्ण बात- किसी भी जाने या अन्जाने व्यक्ति को आर्थिक मदद देना या लेना यह भारत देश में कानूनी अपराध नहीं है। और नया जुडनेवाला व्यक्ति स्वयं ही किसी भी व्यक्ति के हाथ में मदद कि 850/- रु. धनराशि न देकर खुद ही स्पॉन्सर और उनके उपरवाली लेव्हल पर स्थित व्यक्तियों को मदद  भेजता है , इस लिए किसी को किसी ने फंसाया  ऐसा कहने का मौका ही नहीं मिलता।
  • यह वेबसाईट किसी भी व्यक्ति से रजिस्ट्रेशन या दुसरी सर्व्हिसेस देने के लिए एक रुपया भी स्विकार नहीं करती ना ही मदद कि धनराशि का किसी भी सदस्य से स्विकार करती है। वेबसाईट चलानेवाले भी सिस्टम में नये लोग जोडने का काम निरंतर करते रहते है , यही खुबी के कारण यह वेबसाईट सुचारु रुप से निरंतर चलती रहेगी।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
Get Help