NOW LOADING
डूहेल्पमी की जरूरत क्यो ?
22 March, 2019

डूहेल्पमी की जरूरत क्यो ?

डूहेल्पमी की जरूरत क्यो है ?

आज अपने भारत देशकी कुल आबादी लगभग 130 करोड है। इस आबादीमेंसे जादातर लोग धर्म,जाती , भाषा , या प्रांतवादमें बॅंटें हुए है । इस 130 करोड आबादीमें लगभग  95 प्रतिशत  आबादीको अपनी कोई ना कोई महत्वपूर्ण जरूरत पुरी करनेके लिए रूपयोंकी सक्त जरूरत है , मगर किसी कारणवश वह रूपये उनको नही मिल पा रहे है।

जिसके चलते –

  • कोई – कोई व्यक्ती अपनी रोजमर्राकी जरूरते पुरी करनेमें असमर्थ है।
  • कोई अपने माता-पिता या परिवारके सदस्योंका अच्छा इलाज करनेमें असमर्थ है।
  • कोई खुदको या अपने बच्चोको उच्चतम शिक्षा देनेके काबील नही है ।
  • कोई मनचाहा व्यापार करनेके लिए पूँजी नही जुटा पा रहा है ।
  • कोई अपने कर्ज से मुक्ती नहीं  पा रहा  है।

 

ऐसी समस्याओंमें  घिरे हुए और  भिन्न-भिन्न धर्म , जाती , भाषा ,प्रांतवादमें बॅंटें हुए भारतीय लोगोंको

एक दुसरोंकी मदद करनेके  लिए  और  एक दुसरोसे  मदद  पाने  के लिए www.dohelpme.org  इस वेबसाईटने एक अच्छे प्लॅटफार्म पर एकत्रीत होनेका  मौका  दिया है , जिसके कारण सभी  लोग  सारे भेदभाव भुलाकर एक दुसरेकी मदद करनेके लिए प्रेरीत हो  रहे  है ।

आपने अपने बचपनमें  एकता में कितनी ताकत होती है , इसके बारेमे कई  मनोरंजक कहाँनिया सुनी या पढी  होंगी । जरूरतमंद व्यक्तीयोंको आर्थिक मदद देने या लेने के लिए यही एकता की ताकत का इस्तेमाल और कर भला तो हो भला इस कहावत पर आधारित “ डूहेल्पमी “ वेबसाईटने  एक थीम  की शुरूवात की है,जिसके कारण सभी भारतवासीयों  को बडे सपने देखनेकी और वह साकार करनेकी आर्थीक समृध्दी  उपलब्ध हो रही  है ।

भाईयो , मै यहाँ  आपको कोई मार्केटिंग प्लॅान , एम.एल.एम , नेटवर्कीग या कोई सस्ती चिज महॅंगे दामो में खरीदकर थीममें जुडनेके लिए  नही बता रहा हॅूं और ना ही  किसी कंपनीका कोई प्रॅाडक्ट खरीदने या बेचनेके लिए कह रहा हॅूं । डूहेल्पमी  अपने  आपमें  एक फूल प्रृफ और दिलचस्प थीम है , जिसमें जो व्यक्तीकों दुसरोसे आर्थीक मदद की आवश्यकता है , शुरूमें उन्हे   जाने-अनजाने चार व्यक्तीयोंकी ऑनलाइन या मनीऑर्डरव्दारा आर्थिक मदद करनी है । उसके बाद उन्हें अपने जैसे कम से कम  एक या बीस जरूरतंद व्यक्तीयोंको  मदद देने और मदद पानेके  लिए थीममें जोडना है , यह कार्य पूर्ण करतेही उस व्यक्ती को आर्थीक मदद मिलनी शुरू हो जाएगी । मदद भी ऐसी जो उसे कभी भी किसी को वापस लौटानी नही है ।

डूहेल्पमी इस वेबसाईटपर जुडनेकी प्रक्रीया :-

सबसे पहले आपको www.dohelpme.org इस वेबसाईटपर आपका नाम रजिस्टर करना होगा।रजिस्ट्रेशन करते समय आपको आपके स्पॅान्सरका डी.एच.एम. रजिस्ट्रेशन कोड माँगा जाएगा , आपके पास अगर कोड नंबर है , तो वह भरकर आप आगे बढ सकते है। अगर कोई स्पॅान्सरर नहीं है तो आपको “GET DHM CODE” यह बटन क्लीक करतेही वेबसाईटव्दारा कोड नंबर दिया जाएगा ।  इसके बाद अपनी व्यक्तीगत जानकारी भरनेके बाद  रजिस्ट्रेशन फॅार्म सबमीट कर दिजीए । तुरंत ही आपके व्दारा दिए हुए मोबाईल नंबर और ई मेल पर आपकी रजिस्ट्रेशन प्रक्रीया सफलतापूर्वक पूर्ण हुई और आपके डी.एच.एम. रजिस्ट्रेशन कोड नंबर का संदेश मिल जायेगा । आपकी व्यक्तीगत जानकारी आपके स्पॅान्सर के पास  देने पर यह रजिस्ट्रेशन की प्रक्रीया आपके स्पॅान्सर उनकी आय.डी. से भी कर सकते है ।  मनीऑर्डरव्दारा मदद पाने के लिए अपने एड्रेसका पीन नंबर डालना आवश्यक है । और ऑनलाईन मदद पाने के लिए बॅंक डिटेल्स / क्यूआर कोड/यूपीआय एड्रेस देना जरूरी है।     जो भी जरूरतमंद व्यक्ती को अपने अधुरे सपने साकार करनेके लिए  या आर्थीक समस्याओंसे उभरनेके लिए मदद की जरूरत है , उनको  शुरूवातमें उनके स्पॅान्सरको 500/-रूपये , अपने  परिचित या अपरिचित तीन व्यक्तीयोंको 800-800/- रूपये और भारत देशके सीमाओंकी सुरक्षा करनेवाले भारतीय सैन्यदलके  सैनिक और उनके परिवारको  मदद करने हेतू  भारत सरकारने नॅशनल डिफेन्स फंड ‘’  नामक फंडकी सुरूवात की है इस फंड के  निचे  दिए  हुए बॅंक  खातेमें 100/-  रूपये ऑनलाइन या मनीऑर्डर व्दारा मदद करनेकी आर्थिक क्षमता  और इच्छा होनी चाहीए , याने कुल 3000/- रुपयोंमें आप डूहेल्पमी थीम के साथ जुड सकते है।

 

नॅशनल डिफेन्स फंड

 

State  Bank  of  India.  Collection  Account Number  is – 11084239799  with  State Bank  Of  India,Institutional  Division , 4th  Floor  ,  Parliament Street  ,  New Delhi.

डूहेल्पमी इस वेबसाईटमें जुडनेसे मदद कैसे मिलेगी ?

www.dohelpme.org इस  वेबसाईटपर रजिस्ट्रेशन प्रक्रीया सफलतापूर्वक पूर्ण करनेके तुरंत बाद एक फॅार्म आपके आ्य.डी में अपलोड हो जाएगा, जिसमें आपके  स्पॅान्सरका और आपको जिन तीन व्यक्तियों को 800-800 रुपयों की मदद करनी है उनके नाम , एड्रेस , बँक डिटेल्स इ.  जानकारी मिल जाएगी।अगर आपके स्पॅान्सरने आपका नाम उनके 4 फॅार्ममेंसे फॅार्म  नंबर  – 1  पर लिखा है तो, डूहेल्पमी वेबसाइट पर मदद पाने हेतु पहले से जुड़े हुए और आपके स्पॅान्सरके लेव्हल  2 , 3 , 4 पर स्थित तीन लोगोको 800-800/- रूपयोंकी और 500/- रूपये अपने स्पॅान्सरको ऑनलाइन या मनीऑर्डरव्दारा मदद करनी होगी। अगर आपका नाम स्पॅान्सरके फॅार्म नंबर 2 पर लिखा है तो , स्पॅान्सरको 500/-रूपये और लेव्हल  5 , 6  , 7 पर स्थित व्यक्तीको 800 – 800/- रूपये और  अगर फॅार्म नंबर  3  पर  लिखा  है तो स्पॅान्सरको 500/-रूपये  और 8 , 9 , 10 पर स्थित व्यक्तीको 800 – 800/- रुपये अगर फॅार्म नंबर 4 पर लिखा  है तो, 2900/- रूपये अपने स्पॅान्सरको और 100/-रूपये नॅशनल डिफेन्स फंड बॅक अकाउंट में डिपॅाझीट /ऑनलाइन व्दारा मदद करनी होगी। याने किसी भी स्पॅान्सरका फॅार्म नंबर 4 भरने के बाद उन्होने शुरू में दुसरोंकी  मदद  के  लिए  खर्च  किए हुए अपने 3000/- रूपये के बदले मे उन्हे 4400/- रुपयों की मदद मिल जाती हैं । फार्म नं-1,2,3 से 500+500+500 और 4 से 2900/- टोटल 4400/- रूपये ।

इस प्रकार स्पॅान्सर,तीन जरूरतमंद व्यक्ति और नॅशनल डिफेन्स फंडके बॅंक खातेमें  100/- रूपये भरनेकी रसीद , मनीऑर्डरव्दारा भेजी हुई मदद की  रसीदें या ऑनलाइन ट्रान्झेक्शन डिटेल्स  आप खुद अपनी आय.डी खोलकर मनीऑर्डरका पी.एन.आर. नंबर सिस्टीममें भरनेके बाद रसीदे अपलोड  कर सकते है । यह प्रक्रीया आपके स्पॅान्सरभी उनकी आय.डी से कर सकते है। वेबसाईटव्दारा मनीऑर्डर रसीद , ट्रान्झेक्शन डिटेल्स व्हेरीफाय होनेके बाद आपके अकाऊंटमें चार फॅार्मस् जनरेट हो जाऐगे । उन चारो फॅार्मस् के  सिरियल नंबर  1 पर आपका नाम रहेगा ।

यह चार फॅार्मस् मिलनेके बाद आपको अपने जैसे कम से कम एक और जादा से जादा बीस जरूरतमंद व्यक्तीओंको इस थीममें जोडनेका मौका मिलता है। आपके बाद जुडनेवालोंको भी केवल एकही बार उनके जैसे एक या बीस  जरूरतमंद व्यक्तीयोंको थीममें जोडना है । इस प्रकार थीममें जुडनेवाले  सभीं व्यक्तीयोंने अगर शत-प्रतिशत , चार –चार व्यक्तीयोंको थीममें जोडनेका काम किया तो दसवी लेव्हल तक आपको कुल 27,96,23,600/- ( सत्ताइस करोड छहान्नवे लाख तेईस हजार छ सौ ) रूपयोंकी मदद मिल सकती है ।

आइए कैसे –

  • STAGE 1 –  3 X 500 +2900  =             4400/-
  • STAGE 2 –  4 X 800              =             3200/-
  • STAGE 3 –  16 X 800            =           12,800/-
  • STAGE 4 –   64 X 800          =            51,200/-
  • STAGE 5 –   256 X 800        =         2,04,800/-
  • STAGE 6 –   1024 X 800      =         8,19,200/-
  • STAGE 7 –   4096 X 800     =       32,76,800/-
  • STAGE 8 –   16384 X 800   =    1,31,07,200/-
  • STAGE 9 –   65536 X 800   =    5,24,28,800/-
  • STAGE 10 – 262144X800   = 20,97,15,200/-

कुल रक्कम = 27,96,23,600/-

जब आप सिस्टममें जुडते है तो आपको चार फॅार्मस् मिलते है, उन चारो फार्मस् में आपका नाम लेव्हल 1 पर रहेगा और आपको चार जरूरतमंद व्यक्तीयोंको थीममें जोडनेका मौका मिलता है । उनको जोडतेही लेव्हल 1 से आपको 4400/-रूपये मिल जाते है। उन चारो व्यक्तीयोंके चारो फॅार्मस् मे आप का नाम लेव्हल – 2 पर रहेगा जिससे आपको 3200/- रूपयोंकी मदद मिलेगी । इसी तरह लेव्हल-३ पर उन 16 लोगोंकें  चारो फॅार्मस् में आपका नाम रहेगा , जिससे आपको 12,800/- रूपयोंकी मदद मिलेगी । और लेव्हल 10 पर आपका नाम 262144 लोगोंके फॅार्मस्  में रहेगा। इस प्रकार सभी जरूरतमंद जुडनेवाली व्यक्तीयोंने अगर सौ प्रतिशत केवल चार –चार व्यक्तीयोंको थीममें जोडनेका काम किया तो दसवी लेव्हल तक आपको कुल 27,96,23,600/- (सत्ताइस करोड छहान्नवे लाख तेईस हजार छ सौ) रूपयोंकी मदद मिल सकती है ।

मदद भी ऐसी जो की आपको कभी भी किसी को लौटानी नही होगी ।

एक फार्म भरने पर भी व्यक्ति इस थीम से मदद पा सकता है ।अगर किसी व्यक्ति को कम समय में  जादा मदद  की जरूरत  है, तो वह पहले लेव्हल पर चार रेग्युलर फार्मस्  भरने के बाद और 16 जरूरतमंद लोगोंको जोड़ सकता है, ऐसे में चौथे फार्म से  उन्हें 2900/- रूपये और 5 से 20 वे फार्म तक उन्हें  2500/- रुपयों की मदद मिलेगी । फार्म नंबर 5 से 20 तक  स्पॅान्सरके11 लेव्हल से 42 लेव्हल पर स्थित दो  व्यक्ति को एक फार्म से  200-200 रुपयों  की मदद मिलेगी । याने उस व्यक्ति की टीम 20 लोगोंकी होगी और उसको 20 लोगोंकी टीम से मदद मिलती रहेगी ।

है ना  यह दिलचस्प थीम !!!!!

डूहेल्पमी इस वेबसाईटकी थीम निरंतर क्यो चलेगी ?

दोस्तो  इसके पहले आपने कई एम.एल.एम.प्लॅान या स्कीमों के बारेमें सुना होगा । उनमेंसे लगभग सारे प्लॅान या स्कीमें बंद हो चुकी है ।

उसका प्रमूख कारण यह है की –

 

  • कंपनी व्दारा  इंन्व्हेस्टमेंटपर जो मुमकीन नही

है वह रिटर्न देनेका  प्रलोभन ।

  • कंपनीके टॅाप एजंटस् को बडी सेटींगकी

अॅ।फर ।

  • स्कीम प्रमोशन करनेके लिए  महंगी फाईव्ह

स्टार होटलोंमें सेमीनार या इव्हेन्ट पर बडा

खर्चा ।

  • परदेश भ्रमण और रिवॅार्डस् पर बडा खर्चा ।

जिसके कारण जो लोग स्कीममें शुरू में जुडे है , उनको तो फायदा हो जाता है , मगर उपर दिए हुए चिजो पर कंपनीका जादा खर्च होने के कारण कंपनी वायदे पुरे नहीं कर सकती और  वह प्लॅान बंद हो जाता है और बादमें जुडनेवाले व्यक्तीयोंकी इन्व्हेस्टमेंट डूब जाती है ।

मगर डूहेल्पमीकी www.dohelpme.org यह वेबसाईट सिर्फ जरूरतमंद लोगोंको मदद देने और मदद लेनेके लिए एक अच्छे दर्जेका प्लॅटफार्म उपलब्ध कर रही है , जिसके बदलेमें कभीभी वेबसाईटव्दारा किसीसे भी कोई रूपया नहीं लिया जाता।डूहेल्पमी इस वेबसाईटके थीममें कोई इन्व्हेस्टमेंट नहीं है और यह वेबसाईट किसी को भी  अच्छे रिटर्न का प्रलोभन नहीं देती है और कोई कमीशन भी बाँटा नहीं जाता है।

इसलिए ‘’ डूहेल्पमी ‘’ कंपनीकी यह थीम निरंतर चलती रहेगी क्यो की , भारतकी  आजकी 130 करोड आबादीमेंसे लगभग  1 या 2 प्रतिशत लोगोंको छोडकर सभी को कोई ना कोई जरूरत पुरी करनेके लिए रूपयोंकी जरूरत है। जब तक ऐसे जरूरतमंद लोग भारत देशमें है , तब तक यह थीम विफल नही हो सकती । और जो  व्यक्ती इस थीममें  जुडनेके बाद दसवी लेव्हल पार कर चुका है , और  उसको मदद की फिर भी आवश्यकता है , तो उसे दुबारा नये व्यक्ती की तरह थीममे जुडना पडेगा इसलिए यह थीम निरंतर चलनेवाली है ।

भारतीय सैन्यदल और राष्ट्र निर्माणमें डूहेल्पमी के सदस्योंकी सहाय्यता :-

डूहेल्पमी की इस थीममें जुडनेके बाद व्यक्ती ना केवल अपनी खूद की आर्थीक समस्याओसे छूटकारा पा रहा है , बल्की साथ-साथ भारत देशकी सीमाओकी सुरक्षामें जुटे हुए भारतीय सैन्यदलके सैनीक,उनके परिवार को  भी आर्थीक मदद देकर एक अच्छे नागरीक होनेका फर्ज अदा कर रहा है ।

भारत देशके सीमाओंकी सुरक्षा करनेवाले भारतीय सैन्यदलके  सैनिक और उनके परिवारको  मदद करने हेतू  भारत सरकारने  “ नॅशनल डिफेन्स फंड ‘’  नामक फंडकी सुरूवात की है । डूहेल्पमी की इस थीममें जुडते समय हर एक व्यक्ती इस फंडमें  100/- रूपयोंका डोनेशन करता है । इस थीमव्दारा मदद मिलनी शुरू होनेके बाद , जब मदद की रकम  50000/- रूपये हो जाएगी तो आगे निरंतर मदद पानेके लिए डूहेल्पमी के रजिस्टर्ड सदस्योंको नॅशनल डिफेन्स फंड में 1000/- रूपयोंकी मदद देनी होती है। फिर उसके अगले 50000/- रूपयोंकी मदद मिलनेके बाद सदस्यको प्रधानमंत्री सहाय्यता फंडमें 1000/- रूपयोंकी मदद देनी होती है। उसके बाद, जुडनेवाला व्यक्ती  जिस  राज्य का  होगा उस राज्य के  मुख्यमंत्री सहाय्यता फंड और राज्य पुलीस दलके वेलफेअर फंडमें एक-एक हजार रूपयोंकी मदद देनी होती है ।

आप  सभी  को शायद यह जानकारी  होगी  की ,  इंन्कम टॅंक्स  अॅंक्ट  के  तहत 50000/-  रूपयोंसे जादा  मिली  हुई मदद  या डोनेशन पर  टॅंक्स  भरना पडता है । डूहेल्पमी इस थीमव्दारा मिली हुई मदद 50000/-  रूपयोंसे  जादा होनेके बाद डूहेल्पमी के सदस्योंको भी टॅंक्स भरना पडेगा । इस प्रकार डूहेल्पमी के सदस्य  भी वह  टॅंक्स  भरकर  अपने भारत देशको विकासके  मार्ग ले जानेमें और  राष्ट्रनिर्माणमें सहाय्यता प्रदान कर रहे है ।

इस प्रकार www.dohelpme.org इस वेबसाईट से जुडे हुए लोग  एक दुसरोकी मदद करनेके बाद खुद मदद पा रहे है ,आम भारतवासियोकों सभी  प्रकारके कर्ज से मुक्ती दिलानेमें , उन्हे बडे सपने देखनेकी और वह सपने साकार करनेकी आर्थीक समृध्दी प्रदान कर रहे है । साथमें  नॅशनल डिफेन्स फंड , प्रधानमंत्री सहाय्यता फंड, मुख्यमंत्री सहाय्यता फंड और पुलीस वेलफेअर फंड में  मदद देकर भारत देश का अच्छा नागरिक होनेका फर्ज अदा कर रहे है , उचित  टॅंक्स भरकर राष्ट्रनिर्माणमें सहाय्यता प्रदान कर रहे है ।

 

।। जय हिंद ।।

 

LEAVE A REPLY

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Registration

Forgotten Password?